केन्द्र ने रोजाना नए मामलों में बढ़ोतरी वाले राज्यों को पत्र लिखा

The Center writes letters to the states increasing daily new cases

नयी दिल्ली : भारत में पिछले कुछ दिनों में सक्रिय मामलों की संख्या में बढ़ोतरी देखने को मिली है। आज भारत में कुल सक्रिय मामलों की संख्या 1,45,634 के स्तर पर बनी हुई है। यह अब भारत के कुल पॉजिटिव मामलों का 1.32 प्रतिशत है।

भारत के 74 प्रतिशत से ज्यादा सक्रिय मामले केरल और महाराष्ट्र में हैं। इसके साथ ही छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश में भी रोजाना मामलों में बढ़ोतरी देखने को मिली है। पंजाब और जम्मू व कश्मीर में भी प्रति दिन नए मामले बढ़ रहे हैं।

 

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image003AW85.jpg

 

केरल में पिछले चार हफ्तों में, औसत साप्ताहिक मामले 42,000 के उच्चतम और 34,800 के निचले स्तर के बीच रहे हैं। इसी प्रकार, केरल में पिछले चार हफ्तों के दौरान, सप्ताहिक पॉजिटिव दर 13.9 प्रतिशत से 8.9 प्रतिशत के बीच रही है। केरल में, अलपुझा जिला एक विशेष चिंता की वजह बना हुआ है, जहां साप्ताहिक पॉजिटिव दर बढ़कर 10.7 प्रतिशत हो गई है और साप्ताहिक मामले बढ़कर 2,833 हो गए हैं।

महाराष्ट्र में, पिछले चार हफ्तों में, साप्ताहिक मामलों में तेजी का रुझान बना हुआ है और यह 18,200 से बढ़कर 21,300 के स्तर पर पहुंच गए हैं; वहीं साप्ताहिक पॉजिटिव दर 4.7 प्रतिशत से बढ़कर 8 प्रतिशत हो गई है। मुंबई के उपनगरीय इलाके विशेष चिंता की वजह बने हुए हैं, जहां साप्ताहिक मामले 19 प्रतिशत तक बढ़ गए। नागरपुर, अमरावती, नासिक, अकोला और यवतमाल में साप्ताहिक मामले क्रमशः 33 प्रतिशत, 47 प्रतिशत, 23 प्रतिशत, 55 प्रतिशत और 48 प्रतिशत तक बढ़ गए।

पंजाब में कोविड 19 के संक्रमण के प्रसार पर गौर करें तो यह तेजी से गंभीर स्थिति में पहुंच रहा है। राज्य में, पिछले चार हफ्तों के दौरान, साप्ताहिक पॉजिटिव दर 1.4 प्रतिशत से बढ़कर 1.6 प्रतिशत हो गई है, वहीं बीते चार हफ्तों में साप्ताहिक मामलों की संख्या 1,300 से बढ़कर 1,682 हो गई है। सिर्फ एक जिले एसबीएस नगर में ही, साप्ताहिक पॉजिटिव दर 3.5 प्रतिशत से बढ़कर 4.9 प्रतिशत हो गई और साप्ताहिक मामले दोगुने से ज्यादा बढ़कर 165 से 364 हो गए।

5 राज्यों/ संघ शासित क्षेत्रों में साप्ताहिक पॉजिटिव दर राष्ट्रीय औसत से ज्यादा है। राष्ट्रीय औसत 1.79 प्रतिशत है। वहीं महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा 8.10 प्रतिशत की साप्ताहिक पॉजिटिव दर है।

केन्द्र ने सभी राज्यों को पांच मुख्य क्षेत्रों पर काम करने की सलाह दी है। वे इस प्रकार हैं :

  1. अनुपातिक रूप से आरटी-पीसीआर परीक्षण में बढ़ोतरी पर जोर के साथ परीक्षणों की कुल संख्या में सुधार किया जाए।
  2. सभी निगेटिव रैपिड एंटीजन टेस्ट परिणामों के बाद अनिवार्य रूप से आरटी-पीसीआर जांच कराई जाए और इस तरह का कोई भी निगेटिव व्यक्ति बचा न रह जाए।
  3. सख्त और समग्र निगरानी के साथ ही चिह्नित जिलों में सख्त रोकथाम पर फिर से जोर दिया जाए।
  4. जांच के बाद जीनोम सीक्वेंसिंग के माध्यम म्यूटैंट स्ट्रेंस की नियमित निगरानी के साथ ही मामलों के उभरते हुए क्लस्टर्स की निगरानी की जाए।
  5. मृत्यु के ज्यादा मामलों वाले जिलों में नैदानिक प्रबंधन पर जोर दिया जाए।

कोविड टीकाकरण के मोर्चे पर, भारत का कुल टीकाकरण 1.10 करोड़ के आंकड़े को पार कर गया है।

आज सुबह 8 बजे तक मिली प्रोविजन रिपोर्ट के मुताबिक, 18 फरवरी, 2021 को सुबह 8.00 बजे तक 2,30,888 सत्रों के माध्यम से टीकों की कुल 1,10,85,173 खुराक दी जा चुकी हैं। इसमें 63,91,544 एचसीडब्ल्यू (पहली खुराक), 9,60,642 एचसीडब्ल्यू (दूसरी खुराक) और 37,32,987 एफएलडब्ल्यू (पहली खुराक) शामिल हैं।

उन लाभार्थियों के लिए 13 फरवरी, 2021 से कोविड-19 टीकाकरण की दूसरी खुराक देना शुरू कर दिया गया, जिन्हें पहली खुराक मिले हुए 28 दिन बीत चुके हैं। एफएलडब्ल्यू का टीकाकरण 2 फरवरी, 2021 को शुरू हो गया था।

क्रं. संख्या  

रा/केंद्र शासित प्रदेश

टीका प्राप्‍त कर चुके लाभार्थी
पहला चरण दूसरा चरण कुल टीकाकरण
1 अंडमान और निकोबार द्वीप समूह 4,846 1,306 6,152
2 आंध्र प्रदेश 4,07,935 85,536 4,93,471
3 अरुणाचल प्रदेश 19,702 4,041 23,743
4 असम 1,53,259 11,050 1,64,309
5 बिहार 5,22,379 38,964 5,61,343
6 चंडीगढ़ 12,953 795 13,748
7 छत्तीसगढ 3,40,557 20,668 3,61,225
8 दादरा और नगर हवेली 4,939 244 5,183
9 दमन और दीव 1,735 213 1,948
10 दिल्ली 2,94,081 17,329 3,11,410
11 गोवा 15,070 1,113 16,183
12 गुजरात 8,21,940 60,130 8,82,070
13 हरियाणा 2,08,308 23,987 2,32,295
14 हिमाचल प्रदेश 94,897 12,076 1,06,973
15 जम्मू और कश्मीर 2,00,695 6,731 2,07,426
16 झारखंड 2,52,634 11,325 2,63,959
17 कर्नाटक 5,40,868 1,13,430 6,54,298
18 केरल 3,99,064 38,829 4,37,893
19 लद्दाख 5,631 600 6,231
20 लक्षद्वीप 1,809 115 1,924
21 मध्य प्रदेश 6,40,805 3,778 6,44,583
22 महाराष्ट्र 8,75,752 46,976 9,22,728
23 मणिपुर 40,215 1,711 41,926
24 मेघालय 23,877 629 24,506
25 मिजोरम 14,627 2,241 16,868
26 नगालैंड 21,526 3,909 25,435
27 ओडिशा 4,38,127 94,966 5,33,093
28 पुदुचेरी 9,251 853 10,104
29 पंजाब 1,22,429 13,859 1,36,288
30 राजस्थान 7,82,701 38,358 8,21,059
31 सिक्किम 11,865 700 12,565
32 तमिलनाडु 3,39,686 31,160 3,70,846
33 तेलंगाना 2,80,973 87,159 3,68,132
34 त्रिपुरा 82,369 11,587 93,956
35 उत्तर प्रदेश 10,66,290 85,752 11,52,042
36 उत्तराखंड 1,30,908 7,146 1,38,054
37 पश्चिम बंगाल 6,33,271 49,786 6,83,057
38 विविध 3,06,557 31,590 3,38,147
कुल 1,01,24,531 9,60,642 1,10,85,173

 

टीकाकरण अभियान के 36वें दिन (20 फरवरी, 2021), कुल 4,32,931 खुराक दी गईं, जिनमें से 2,56,488 लाभार्थियों को 8,575 सत्रों में पहली खुराक (एचसीडब्ल्यू और एफएलडब्ल्यू) और 1,76,443 एचसीडब्ल्यू को टीके की दूसरी खुराक दी गई।

नए मामलों में से 81.65 प्रतिशत 5 राज्यों से संबंधित हैं।

केरल में 5,841 नए ठीक हुए मामलों के साथ किसी एक दिन में सबसे ज्यादा संख्या में लोग स्वस्थ हुए। महाराष्ट्र में पिछले 24 घंटों में 2,567 लोग स्वस्थ हो गए, वहीं तमिलनाडु में 459 लोग ठीक हो गए।

 

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image006V3V3.jpg

 

85.61 प्रतिशत नए मामले 5 राज्यों से संबंधित हैं।

6,281 नए मामलों के साथ महाराष्ट्र रोजाना के आधार पर सबसे आगे बना हुआ है। इसके बाद 4,650 मामलों के साथ केरल है, वहीं कर्नाटक में 490 नए मामले दर्ज किए गए। पिछले 24 घंटों के दौरान सामने आए नए मामलों में सिर्फ दो राज्यों महाराष्ट्र और केरल की 77 प्रतिशत हिस्सेदारी है।

 

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image007APYV.jpg

 

22 राज्यों में पिछले 24 घंटों के दौरान कोविड 19 से एक भी मृत्यु नहीं हुई। ये राज्य गुजरात, ओडिशा, जम्मू व कश्मीर (यूटी), आंध्र प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, गोवा, झारखंड, पुडुचेरी, असम, मेघालय, लक्षद्वीप, मणिपुर, मिजोरम, सिक्किम, लद्दाख (यूटी), नगालैंड, अंडमान निकोबार द्वीप समूह, त्रिपुरा, उत्तराखंड, अरुणाचल प्रदेश, डीएंडडी और डीएंडएन हैं।

पिछले 24 घंटों के दौरान 101 लोगों की मृत्यु दर्ज की गई।

मृत्यु के नए मामलों में पांच राज्यों की हिस्सेदारी 80 प्रतिशत है। महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा 40 लोगों की मृत्यु हुई। केरल में 13 लोगों की मौत हो गई। पंजाब में 9 लोगों की मौत हो गई।

 

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image008UJR9.jpg

 

पिछले 24 घंटों के दौरान, सिर्फ 1 राज्य में 20 से ज्यादा मौत हुईं; सिर्फ 1 राज्य में 10 से 20 के बीच मृत्यु हुईं; 2 राज्यों में 6 से 10 लोगों के बीच मृत्यु हुईं और 10 राज्यों में 1 से 5 के बीच मौत हुईं।

 

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image009TT0T.jpg